in ,

Agra News:राशन की दुकानों पर नहीं किया किया जा रहा काेविड नियम का पालन, संक्रमण का बन रहा खतरा

नियमित राशन का वितरण हो रहा है लेकिन विक्रेताओं के यहां कोविड नियमों को लेकर कोई सतर्कता नहीं है। संक्रमण जब विकराल रूप में था, तो गोले बना कार्ड धारकों को खड़ा किया जाता था और राशन वितरण होता था। हर दुकान पर राशन देने से पहले कार्ड धारक के हाथ धुलाने की व्यवस्था की गयी थी। बिना मास्क पहने पहुंचने वालों को लौटाया जा रहा था। संक्रमण फिर से विकराल रूप ले चूका है, लेकिन लापरवाह रवैया अभी भी बना हुआ है। दुकानों पर भीड़ लगी रहती है और आधे से ज्यादा कार्ड धारक बिना मास्क लगाए पहुंचते हैं। गुरुवार सुबह से दुकानों पर पहुंचने वाले अधिकतर लोगों ने मास्क नहीं लगाया था , तो शारीरिक दूरी का पालन कहीं भी नहीं होता है। आपूर्ति विभाग की मानीटिरिंग टीम और नोडल अधिकारियों को इस ओर ध्यान देने की फुर्सत भी नहीं है।

बुधवार को भी दुकानों का कुछ ऐसा ही हाल देखा गया था, जबकि कुछ विक्रेता तो वितरण में भी लापरवाही करते देखे गए हैं। सुबह 10 बजे तक आधे से ज्यादा दुकानें बंद हुयी थीं, जबकि सुबह आठ बजे से शाम आठ बजे तक वितरण समय निर्धारित हुआ है। ट्रांस यमुना स्थित दुकान पर सुबह 10.30 बजे पहुंची संतोषी ने बताया कि सोमवार को दुकान खुली नहीं , जबकि अब भी आठ बजे से खुलने का इंतजार हुआ है। वितरण के आधे दिनों में भी दुकान नहीं खुलती है। दोनों कार्ड धारकों ने मास्क नहीं लगाया था। उनसे संक्रमण से भय नहीं लगता पूछा तो कह दिया कि जल्दी में ऐसे ही चले आए हैं। हम तो साड़ी के पल्ले को ही मास्क बना क्र मुँह धक् लेते हैं। अगर दुकान खुलने के समय जाे आ गया, वो सही, नहीं तो राशन भी नहीं मिलता है। जिला आपूर्ति अधिकारी उमेश चंद्र मिश्रा ने बताया कि पौने दो लाख कार्ड धारकों को वितरण हो गया है। कोविड नियमों का पालन करने के लिए सख्त निर्देश दिए हैं। अगर कहीं लापरवाही मिली तो कार्रवाई होगी ।

What do you think?

Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading…

0
city-panchayat-election

Agra News:चुनाव ड्यूटी कटवाने के लिए बनाये गए बहाने अनेक, कैसे लगाई जा रही हैं जुगाड़

Pariksha Pe Charcha : PM संग संवाद से मिला बच्चो को उत्साह, ऐसा रहा छात्रों का अनुभव